छत्तीसगढ़ में चलती ट्रेन से उतारा जाता था कोयला… RPF की अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई 2000 KG कोयला जब्त

Must Read

रायपुर/अंबिकापुर. चलती ट्रेन से कोयला उतारकर उसे बेचने के मामले में आरपीएफ ने दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे जोन की अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई की है. बिलासपुर जोन के सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक बिलासपुर के आरपीएफ कमांडेंट दिनेश सिंह तोमर के नेतृत्व में अंबिकापुर आरपीएफ पोस्ट ने ये कार्रवाई की है. जिसमें 2000 किलो कोयला जब्त किया गया है, इस मामले में कोयला ट्रेन से उतारकर बेचने वाले आरोपियों के साथ खरीदने वाला रिसीवर भी गिरफ्तार कर लिया गया है. जानकारी के मुताबिक निरीक्षक एस मिंज बल सदस्यों के साथ भटगांव करंजि के मध्य KM/No 10/BC के पास समय 03:05 बजे से गुप्त निगरानी के दौरान T/No N/BRS से चार व्यक्ति कोयला चोरी करते रंगे हाथ पकडे गए जिनका नाम (1) शिव मंगल (2) जगदीश (3) लक्ष्मन राजवाडे (4) भारत राजवाडे बताया जा रहा है. इनके कब्जे से 25 बोरी कोयला और 2 बाइक जब्त कर उनकी निशानदेहि पर ईट भट्ठी संचालक पिरोहित राजवाडे के यहां दबिश दी गई. जहां 15 बोरी रेलवे का कोयला जप्त किया गया. कारवाई उपरांत सभी को 3(a)RP(up)Act के तहत गिरफ्तार कर पोस्ट लाकर उनके विरुध अपराध क्रमांक 10/24 दिनांक 13/05/24 धारा 3(a)RP(up)Act का मामला पंजीबध किया गया. जब्त कोयला का कुल वजन 2000 KG बताया जा रहा है.

इसके पहले भी हो चुकी है कार्रवाई

चंद दिनों पहले ही कुशिया नाला बतरा के पास से चलती ट्रेन से कोयला उतारने वाले आरोपियों के खिलाफ कार्ऱवाई हो चुकी है. उक्त कार्रवाई में तीन लड़के जूट की बोरी में कोयला भर रहे थे. आरपीएफ की पूछताछ में तीनों ने अपना नाम क्रमशः अजय सिंह, हेमराज राजवाड़े, दिनेश सिंह निवासी- ग्राम बतरा बताया. पूछताछ में तीनों ने बताया कि रात में वे 1:30 बजे भटगांव साईडिंग से कोयला लोड गाड़ी गाडर पुल बतरा से होकर धीरे-धीरे जा रही थी, तब हम तीनों गाड़ी पर चढ़ गए व कोयला नीचे गिराया कोयला गिराने के बाद 6 जूट की बोरी में कोयला को भरकर धरती पारा बतरा में स्थित ईंट भट्टे का मालिक शनिदेव राजवाड़े को ₹200 बोरी के हिसाब से बेच दिया.

पुनः बाईक लेकर बचे हुए कोयले को लेने के लिए आए एवं तीन जूट की बोरी में भर रहे थे,कि पकड़े गए. उप निरीक्षक एसके केवट के द्वारा तीन बोरी कोयला वजन 150 किलोग्राम एवं बाईक को जप्त किया गया. तीनों आरोपियों की निशानदेही पर शनिदेव रजवाड़े के ईंट भट्टे पर गए एवं भट्टे पर मौजूद व्यक्ति से पूछताछ करने पर वह अपना नाम शनिदेव राजवाड़े बताया एवं तीनो आरोपियों की शिनाख्त् उपरांत शनिदेव राजवाड़े अपनी गलती स्वीकार कर बताया कि ईंट पकाने के लिए आज सुबह 6 बोरी कोयला 1200 रुपए में खरीदा था और कोयला लेकर आना खरीद लूंगा बोला था. तब मौके पर 6 बोरी कोयला वजन लगभग 300 किलोग्राम जब्त कर कार्ऱवाई की गई. तीनों आरोपियों एवं एक रिसीवर को रेल अधिनियम की धारा 3(a) RP(UP) एक्ट में गिरफ्तार किया गया था.

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -spot_img
Latest News

Kedarnath: केदारनाथ में हेलीकॉप्टर की इमरजेंसी लैंडिंग, बाल-बाल बचे यात्री

रुद्रप्रयाग: केदारनाथ धाम में पायलट की सूझबूझ से बड़ा हादसा होने से बच गया। केदारनाथ धाम के लिए उड़ान...
- Advertisement -spot_img

More Articles Like This

- Advertisement -spot_img