बेटी की हत्या कर शव को बेडरूम में गाड़ा और सो गया पिता, शव गलाने के लिए डाला 4 किलो नमक, आइए जानते हैं रूह कंपा देने वाले इस हत्याकांड की कहानी

Must Read

Motihari Murder Case: बिहार के मोतिहारी में हत्या की एक सनसनीखेज हत्या की वारदात से हर कोई सन्न रह गया। यहां एक हैवान पिता ने बेटी की हत्या (father murdered daughter) कर दी। इसके बाद लाश को बेडरूम में ही गाड़ (buried the dead body in the bedroom) दिया। वहीं लाश के ऊपर आराम से पूरी रात सोता रहा और सुबह उठकर घर से फरार हो गया। बेटी की लाश जल्दी गल जाए इसके लिए हत्यारे पिता ने गड्ढे में चार किलो नमक (4 kg salt) भी डाल दिया था। मृतक बच्ची के भाई ने पुलिस के सामने इस हत्या की पोल खोल दी। इसके बाद जिसने भी इस हत्याकांड की कहानी सुनी उसके रोंगटे खड़े हो गए। हत्या की ये वारदात पूर्वी चंपारण के रामगढ़वा थाना क्षेत्र के मुरला गांव में हुई है।

मोतिहारी पुलिस (Motihari Police) के मुताबिक आरोपी भगवान दास शराब पीने का आदी था। शराब के नशे में आए दिन घरेलू विवाद करता था। नशे में पत्नी की भी आए दिन पिटाई करता था। वारदात वाले दिन भी झगड़े के बाद पति से बचने के लिए पत्नी पड़ोसी के घर चली गई।

इसके बाद आरोपी बेटी रानी (मृतिका) के साथ भी झगड़ा करने लगा। इससे गुस्साए आरोपी ने हैवानियत की सभी हदें पार कर गला दबाकर बेटी की हत्या गले मे फंदा डालकर कर दी। शव को अपने बेडरूम में ही गड्ढे में दफ्न कर दिया। इतना ही नहीं, आरोपी पिता ने गड्ढे में चार किलो नमक भी डाल दिया ताकि लाश जल्दी गल जाए और इसके बाद रात भर उसी रूम में सोया और सुबह फरार हो गया

सुबह महिला घर लौटी तो अपनी बेटी को ढूंढने लगी। काफी खोजबीन के बाद भी जब रानी नहीं मिली तो थक हारकर उसकी बेचैन मां रामगढ़वा थाने पहुंची। थानाध्यक्ष सच्चिदानंद पांडेय ने इस मामले की जांच शुरू की तो मृतक रानी के मासूम भाई ने इस हत्याकांड का खुलासा किया।

मासूम ने थानाध्यक्ष से कहा कि मेरे पिता ने ही बहन को मारा है। बच्चे के बयान पर थानाध्यक्ष सच्चिदानंद पांडेय ने जब रूम की खुदाई करवाई तो लड़की का शव वहां से बरामद हुआ और सनकी पिता की पोल खुल गई। उसके बाद रामगढ़वा पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए उसके एक अन्य चाचा को गिरफ्तार कर लिया है और हत्यारे पिता की खोज में जुट गई है।

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -spot_img
Latest News

एबीवीपी (अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद) का ग्रीष्मकालीन शिविर

*एबीवीपी का ग्रीष्मकालीन शिविर* ग्राम्य अनुभूति.. अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद दुर्ग विभाग के विभाग स्तरीय दो दिवसीय ग्रीष्मकालीन शिविर का आयोजन...
- Advertisement -spot_img

More Articles Like This

- Advertisement -spot_img