अलोकतांत्रिक तरीके से कांग्रेस के फंड पर किया गया हमला: सोनिया गांधी

Must Read

नई दिल्ली: कांग्रेस पार्टी का कहना है कि इनकम टैक्स विभाग ने उस पर 210 करोड़ रुपए का जुर्माना लगाया है। कांग्रेस के बैंक अकाउंट के 285 करोड़ रुपए सीज कर दिए गए हैं। कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे, कांग्रेस संसदीय दल की अध्यक्ष सोनिया गांधी व राहुल गांधी ने गुरुवार को इस पर अपनी आपत्ति दर्ज की। खड़गे ने कहा कि कांग्रेस को असहाय बनाकर केंद्र सरकार फ्री और फेयर चुनाव की बात करती है। ऐसा नहीं हो सकता। सोनिया गांधी ने कहा कि कांग्रेस द्वारा लोगों से इकट्ठा किए गए फंड को फ्रीज कर दिया गया है। इस चुनौतिपूर्ण स्थिति में भी हम प्रभावशाली चुनाव प्रचार का प्रयास कर रहे हैं। अलोकतांत्रिक तरीके से कांग्रेस के फंड पर जानबूझकर हमला किया जा रहा है।

सोनिया गांधी ने कहा कि यह लोकतंत्र पर हमला है। अगर कांग्रेस किसी भी तरह से चुनाव प्रचार में खर्च नहीं कर सके तो चुनाव किस बात का। पिछले एक महीने से हम अपने 285 करोड़ का इस्तेमाल नहीं कर पा रहे हैं। कांग्रेस के कोषाध्यक्ष अजय माकन ने बताया कि कांग्रेस पार्टी के पास अपने प्रचार पर खर्च करने के लिए फंड नहीं है। खाते सीज होने के कारण वह उम्मीदवारों को चुनाव लड़ने के लिए फंड नहीं दे पा रही है। हमें विज्ञापन के स्लॉट बुक करने हैं। अखबारों, सोशल मीडिया पर विज्ञापन देने हैं, लेकिन हम वह सब नहीं कर पा रहे हैं।

1माकन ने कहा कि 7 साल पहले मोतीलाल बोरा व 1994-95 में सीताराम केसरी के जमाने का नोटिस भी हमें भेजा गया है। यदि सरकार इसी तरह से कार्य करेगी तो महात्मा गांधी के जमाने का नोटिस भी कांग्रेस को अब भेजा जा सकता है। माकन ने बताया कि हमने मात्र 30 दिन लेट अपने अकाउंट जमा किए। कानून के मुताबिक इसके लिए केवल 10 हजार रुपए का जुर्माना लगाया जा सकता है। हालांकि हमारे ऊपर 210 करोड़ रुपए का जुर्माना लगा दिया गया। 115 करोड़ रुपए हमारे बैंक अकाउंट से जबरन ले लिए गए। राहुल गांधी ने कहा कि हमारे सभी बैंक खाते सीज कर दिए गए हैं। देश की सबसे बड़ी विपक्षी पार्टी के खाते चुनाव के समय सीज किए गए हैं। उन्होंने इसे एक आपराधिक गतिविधि बताया।

राहुल गांधी ने कहा कि हम चुनाव प्रचार पर पैसे खर्च नहीं कर पा रहे हैं। हमारे नेता यात्रा नहीं कर पा रहे हैं। हवाई जहाज तो छोड़िए हमारे पास रेल यात्रा के लिए भी पैसे नहीं है। देश की 20 प्रतिशत जनता ने हमें वोट दिया है लेकिन हम किसी भी चीज पर 2 रुपए तक खर्च नहीं कर पा रहे हैं। राहुल गांधी ने कहा कि 1 महीने पहले कांग्रेस पार्टी के सारे बैंक अकाउंट फ्रीज कर दिए गए। हैरानी की बात यह है कि किसी भी अदालत या चुनाव आयोग ने इस पर कुछ भी नहीं कहा। आज स्थिति यह है कि हम अपने नेताओं को एक शहर से दूसरे शहर नहीं भेज सकते। राहुल गांधी ने कहा कि इनकम टैक्स का एक्ट यह साफ कहता है कि ज्यादा से ज्यादा 10 हजार रुपए का जुर्माना लगाया जा सकता है, लेकिन कांग्रेस पार्टी के खिलाफ क्रिमिनल एक्शन लिया गया है। उन्होंने संवैधानिक संस्थाओं से अपील करते हुए कहा कि इसके खिलाफ कुछ करें।

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -spot_img
Latest News

एबीवीपी (अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद) का ग्रीष्मकालीन शिविर

*एबीवीपी का ग्रीष्मकालीन शिविर* ग्राम्य अनुभूति.. अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद दुर्ग विभाग के विभाग स्तरीय दो दिवसीय ग्रीष्मकालीन शिविर का आयोजन...
- Advertisement -spot_img

More Articles Like This

- Advertisement -spot_img