चुनाव से पहले छत्तीसगढ़ के पूर्व CM भूपेश बघेल के खिलाफ FIR दर्ज, महादेव बेटिंग ऐप मामले में एक्शन

Must Read

रायपुर: FIR on Bhupesh Baghel लोकसभा चुनाव 2024 के लिए निर्वाचन आयोग ने चुनाव की तारीखों का ऐलान कर दिया है, जिसके बाद से सियासी गलियारों सरगर्मी बढ़ी हुई है। लेकिन छत्तीसगढ़ में एक अन्य मामले को लेकर बवाल मचा हुआ है। दरअसल पूर्व सीएम भूपेश बघेल के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। बताया जा रहा है कि भूपेश बघेल के खिलाफ महादेव बैटिंग ऐप से 508 करोड रुपए लेने के मामले को लेकर एफआईआर दर्ज की गई है। वहीं दूसरी ओर पूर्व सीएम भूपेश बघेल ने प्रेस वार्ता करने की बात कही है।

मिली जानकारी के अनुसार भूपेश बघेल के खिलाफ प्रोटेक्शन मनी के तौर पर 508 करोड़ रुपए लेने के आरोप में ईओडब्लू और एसीबी विंग ने एफआईआर दर्ज की गई है। भूपेश बघेल पर आरोप है कि उन्होंने महादेव बैटिंग ऐप के मालिक रवि उप्पल और सौरभ चंद्राकर को प्रोटेक्शन देने के नाम पर 508 करोड़ रुपए लिए हैं। हालांकि ये मामला विधानसभा चुनाव 2023 से पहले सामने आने के बाद कांग्रेस नेताओं ने खंडन किया था। साथ ही ये भी कहा था कि अगर भूपेश बघेल पर आरोप लग सकते हैं तो भाजपा नेताओं पर भी आरोप लगाए जा सकते हैं। किसी के आरोप के आधार पर केस दर्ज नहीं किया जा सकता है।

बता दें कि ईडी ने अपनी चार्जशीट में दावा किया है कि भूपेश बघेल और उनके सरकार के कई मंत्रियों और प्रशासनिक अधिकारीयों को महादेव बैटिंग ऐप ने करोड़ो रुपये प्रोटेक्शन मनी दिया है। ईडी ने सौरभ चंद्राकर और उप्पल के एक आदमी असिम दास को विधानसभा चुनाव की विधानसभा चुनाव के लिए आचार संहिता लगने के बाद 3 नवम्बर को रायपुर की एक होटल की पार्किंग से गिरफ्तार किया था। इस दौरान दास की गाड़ी और घर से पौने तीन करोड़ रुपए बरामद किए थे। असीम ने अपने बयान में कहा कि ये पैसे किसी भूपेश बघेल को देने आया था। इसी दौरान दास ने यह खुलासा किया था कि वो अब तक 508 करोड़ रुपए भूपेश बघेल को पहुंच चुका है।

बता दें कि भूपेश बघेल को कांग्रेस पार्टी ने लोकसभा चुनाव 2024 में राजनांदगांव सीट से चुनावी मैदान में उतारा है। ऐसे में चुनाव से ऐन पहले उनके खिलाफ मामला दर्ज किए जाने से उनकी मुसीबतें बढ़ सकती है। हो सकता है भूपेश बघेल को पूछताछ के लिए भी बुलाया जा सकता है।

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -spot_img
Latest News

एबीवीपी (अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद) का ग्रीष्मकालीन शिविर

*एबीवीपी का ग्रीष्मकालीन शिविर* ग्राम्य अनुभूति.. अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद दुर्ग विभाग के विभाग स्तरीय दो दिवसीय ग्रीष्मकालीन शिविर का आयोजन...
- Advertisement -spot_img

More Articles Like This

- Advertisement -spot_img